facebook Share on Facebook लखनऊ: पेमेंट को लेकर हुए विवाद में एक बढ़ई ने चाकू घोंपकर गृहिणी को मौत के घाट उतार दिया है। पीड़िता रूचि अग्रवाल (38) यहां गोमती नगर इलाके की रहने वाली थीं। पीड़िता को सीने में चोटें आई हैं। रूची की जांच करने वाले चिकित्सकों ने कहा है कि चाकू से किए गए हमले से दिल को चोटें आई हैं और अधिक रक्तस्त्राव ही मौत की वजह बनी है। शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है। मिली जानकारियों के मुताबिक, बुधवार को यह हादसा तब हुआ, जब गुलफाम नामक बढ़ई अपने एक बिजनेस के सिलसिले में ऊपर रूचि के कमरे में उससे पैसे लेने के लिए गया हुआ था। रूचि उस वक्त फोन पर अपने पति हर्ष अग्रवाल से बात कर रही थी। इस दौरान रूचि ने गुलफाम से कहा कि फोन रखने के बाद ही वह उससे बात करेगी, तब तक वह इंतजार करे। इस बात से गुलफाम नाराज हो गया और उसने बर्बरता से रूचि की हत्या कर दी। रूचि का पालतू कुत्ता अपने मालकिन के बचाव में आगे आया, लेकिन गुलफाम ने उस पर भी हमला कर दिया। हर्ष ने फोन पर चिल्लाने की आवाजें सुनी, तो उसने तुरंत अपने पड़ोसियों से अपने घर पर जाने को कहा। रूचि की बेटियां प्रियांशी (16) और वामिश (14) अपनी मां के चिल्लाने की आवाजें सुनकर अपने कमरे से बाहर दौड़कर भी आईं, लेकिन रूचि ने उनसे भागकर नीचे जाने को कहा। घटना को अंजाम देने के बाद गुलफाम मौके से भाग निकला, हालांकि बाद में पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। गोमती नगर की एसीपी श्वेता श्रीवास्तव ने कहा, “पूछताछ के दौरान गुलफाम ने बताया कि वह अग्रवाल परिवार से पैसे मांग रहा था। सुबह उसने गुस्से में भी पूछा, लेकिन तब भी उसे कोई ठोस जवाब नहीं मिला। उसने कहा कि वह सिर्फ चाकू और हथौड़े से रूचि को धमकाना चाह रहा था, लेकिन गुस्सा आ जाने की वजह से उसने हमला कर दिया।”