facebook Share on Facebook
डीसी कांगड़ा को ज्ञापन देते जिला भर के काँग्रेस नेता

काँग्रेस ने जगजीवन पाल के साथ हुई मारपीट पर  उपायुक्त के माध्यम से राज्यपाल के प्रेषित किया ज्ञापन 

सुलह के पूर्व विधायक एवं पूर्व सीपीएस जगजवीन पाल के साथ हुई मारपीट  को लेकर जिला भर के कांग्रेस के आला नेता शनिवार को धर्मशाला में एकजुट हुए । पूर्व सीपीएस के साथ हुई मारपीट के बाद जिला मुख्यालय धर्मशाला में जिला भर के नेताओं ने भारी रोष जताया और मामले की गहनता से जांच करवाने की मांग कर आरोपी को कड़ी से कड़ी सजा दिलवाने की भी मांग की. उन्होंने इस पूरे घटनाक्रम की जांच को लेकर एक ज्ञापन भी उपायुक्त के माध्यम से राज्यपाल के प्रेषित किया। जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय महाजन के नेतृत्व में सभी कांग्रेसी यहां पर पहुंचे और जिलाधीश कांगड़ा को पूरी स्थिति से अवगत करवाया. 

 पत्रकारों को संबोधित करते हुए जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय महाजन ने कहा कि लाेकतंत्र में सभी को अपनी आवाज उठाने का हक है। पूर्व सीपीएस जगजीवन पाल ने पूरी स्थिति बताते हुए कहा कि गांव वालों के आवेदन पर वह  सुलह पंचायत के रड़ा में अपना शांतिपूर्वक प्रदर्शन कर रहे थे और ऐसे में उन पर किया गया हमला एक सोची समझी साजिश के तहत किया गया है। उन्होंने कहा उन उन पर हमला करने वाले भाजपा कार्यकर्ता ने किसी भारी चीज से उनके सिर पर वार किया है. पूर्व सीपीएस जगजीवन पाल ने विधानसभा अध्यक्ष पर सीधे आरोप लगाते हुए कहा कि यह हमला विधानसभा अध्यक्ष के कहने पर हुआ है. उन्होंने कहा कि यह हमला प्रायोजित था और उन्होंने स्थानीय भाजपा कार्यकर्ताओं को इस मौके पर डंडे लाठियां लेकर घूमते हुए देखा है. इस मामले को लेकर कांग्रेसी नेताओं ने कहा कि ऐसे मामलों को सहन नहीं करेगी, और ऐसे मामलों को लेकर वह अपनी आवाज को बुलंद भी करेगी।  कांग्रेस के वरिष्ठ नेता विप्लव ठाकुर ने कहा कि जनजीवन पाल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता हैं, और युवक द्वारा उनके साथ धक्कामुक्की व उन्हें पीछे से थप्पड़ मारते हुए उनकी उम्र का भी ख्याल नहीं रखा गया क्या यही भाजपा पार्टी के कार्यकर्ताओं की संस्कृति है। उन्होंने कहा कि जगजीवन पाल फिर भी ऊंची कद काठी के हैं उनकी जगह कोई और होता तो शायद जान से हाथ धो बैठता.

पत्रकारों से बातचीत करते हुए शहरी विकास मंत्री सुधीर शर्मा ने कहा कि पुलिस की मौजूदगी में यह सारा घटनाक्रम भी हुआ, लेकिन बावजूद इसके कोई भी कार्रवाई मामले में शामिल युवक के खिलाफ नहीं की गई है। उन्होंने कहा कि इससे साफ जाहिर होता है कि इस पूरे घटनाक्रम के पीछे कहीं न कहीं राजनीतिक हस्तक्षेप भी रहा है, तभी एक युवक द्वारा पूर्व विधायक को पीछे से सिर पर थप्पड़ मारने का हौसला भी दिखाया गया।

डीसी कांगड़ा डॉ निपुण जिंदल के समक्ष कांग्रेसी नेताओं ने पूर्व विधायकों को सुरक्षा देने की मांग उठाई है। उन्होने कहा कि जिस तरह से अराजकता का माहौल प्रदेश में फैला है, उसमें जब पूर्व विधायक ही सुरक्षित नहीं हैं तो आम आदमी का क्या हाल होगा। ज्ञापन के माध्यम से यह भी मांग उठाई गई है कि इस सारे घटनाक्रम के पीछे जिस किसी का भी हाथ है उसके खिलाफ सख्त कार्यवाही भी होनी चाहिए।

 पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष कुलदीप राठौर, नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री की विशेष मौजूदगी में जिला कांगड़ा के सभी कांग्रेसी नेताओं द्वारा इस मामले को लेकर सोमवार को कांग्रेस की रोष रैली भवारना में होगी। भवारना के भीखा शाह मंदिर के पास कांग्रेस इस रोष रैली का आयोजन करेगी। 

 जिलाधीश कांगड़ा को ज्ञापन देने के इस अवसर के दौरान जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष अजय महाजन, पूर्व सांसद चंद्र कुमार, पूर्व राज्य सभा सांसद विप्‍लव ठाकुर, पूर्व सीपीएस जगजीवन पाल, किशोरी लाल,संजय रत्न, डा. राजेश शर्मा, केवल सिंह पठानिया सहित कांग्रेस नेता मौजूद रहे। 

थप्पड़ मारने वाले व्यक्ति का कहना है कि उसने शराब के नशे में यह हंगामा किया . व्यक्ति का कहना है कि यह हंगामा उसने गांव के प्रधान के कहने पर किया है. व्यक्ति के अनुसार उसका किसी भी राजनीतिक पार्टी से कोई भी लेना देना नहीं है. फिलहाल, पुलिस ने इस मामले में थप्पड़ मारने वाले व्यक्ति से पूछताछ की है। अब देखना यह है कि पुलिस इस मामले में आगे क्या कार्रवाई करती है।  वायरल वीडियो में पूर्व विधायक जगजीवन पाल को एक व्यक्ति ने पहले थप्पड़  मारा फिर धक्का दिया। घटना का वीडियो सामने आने के बाद से मामले ने तूल पकड़ लिया। 




more news....