facebook Share on Facebook
कृषि विशेषज्ञों ने छोटा भंगाल में खेतों का किया निरीक्षण

धर्मशाला  | सन्नी महाजन 

 कृषि विभाग के अधिकारियों व कृषि विवि, पालमपुर के वैज्ञानिकों की सयुंक्त टीम ने छोटा भंगाल क्षेत्र  में किसानो के खेतों का निरीक्षण किया। इस टीम में डॉ अरुण सूद, प्रमुख विस्तार विशेषज्ञ, प्रसार निदेशालय, कृषि विवि, पालमपुर, डॉ सुशील कुमार, जिला कृषि अधिकारी, पालमपुर, डॉ रेणु शर्मा, विषयावाद विशेषज्ञ कृषि, ब्लॉक बैजनाथ , कृषि प्रसार अधिकारी, मुल्थान मौजूद थे, इसके अलावा  पवना देवी, जिला परिषद् सदस्य, गुनेहर वार्ड संख्या 19 व विभिन्न पंचायतों के प्रतिनिधि (प्रधान, उपप्रधान) व किसान इस दौरान टीम के साथ मौजूद थे।

   जिला कृषि अधिकारी डा सुशील कुमार ने बताया कि  कृषि विशेषज्ञों की टीम ने छोटा भंगाल क्षेत्र के द्योट, कोठिकोहर, नल्होता, बड़ाग्रां, और लोहारडी में किसानो के खेतों में बंदगोभी व अन्यों सब्जिओं में लग रही बीमारियों का निरिक्षण किया, बीमारियों से बचाब व रोकथाम के लिए किसान कॉपर ओक्सीक्लोराइड का 3 ग्राम प्रति लीटर या बौर्डिओक्स मिक्सचर का 1 प्रतिशत  का घोल बनाकर छिडकाव करने की सलाह दी है इसके अतिरिक्त किसानो से यह आग्रह है ही वो फसल चक्र को अपनाये व हर साल एक ही खेत में एक ही फसल पर न लगायें एक ही फसल लगाने के कारण बीमारी के प्रकोप की संभावना अधिक हो जाती है इसके अतिरिक्त राजमाश की फसल में एंगुलर लीफ स्पॉट नामक रोग पाया गया,जिसकी रोकथाम के लिए किसान बैविस्टिन 1 ग्राम प्रति लीटर पानी की दर से घोल बनाकर खेतों में छिडकाव करने की सलाह दी।



more news....