CM JAIRAM THAKUR
facebook Share on Facebook

 

धर्मशाला में हुआ राज्यस्तरीय ‘नारी को नमन’ समारोह, मुख्यमंत्री ने बस से की यात्रा
 
धर्मशाला | सन्नी महाजन 
 
मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने गुरुवार ‘नारी को नमन’ कार्यक्रम से एचआरटीसी बसों में महिलाओं के किराये में 50 फीसदी छूट की शुरुआत की। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने धर्मशाला बस स्टैंड में एचआरटीसी की पहली महिला बस चालक सीमा ठाकुर को शगुन देकर इसका शुभारंभ किया। इस दौरान परिवहन, उद्योग, श्रम एवं रोजगार मंत्री बिक्रम ठाकुर भी मौजूद रहे। इसके बाद मुख्यमंत्री व अन्य सभी गणमान्य एचआरटीसी की बस से धर्मशाला महाविद्यालय के ऑडिटोरियम के लिए रवाना हुए। इस बस की चालक सीमा ठाकुर ही रहीं, जिन्हें विशेष तौर पर धर्मशाला बुलाया गया था। इसके अलावा सभी जिला मुख्यालयों के बस स्टैंड पर भी जिला स्तरीय कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जहां लाभार्थियों के साथ मुख्यमंत्री ने वर्चुअली संवाद और संबोधन किया।
 
 
*मंत्री ने दिए मुख्यमंत्री और विधायक के टिकट के पैसे*
मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर, परिवहन मंत्री बिक्रम सिंह सहित विधायक व अन्य गणमान्य धर्मशाला बस स्टैंड से एचआरटीसी की बस में कॉलेज कैंपस तक पहुंचे। यह दूरी करीब दो किलोमीटर थी। बस में बीजेपी महिला मोर्चा की पदाधिकारी भी थीं। इस दौरान बस कंडक्टर ने सभी का टिकट काटा। परिवहन मंत्री बिक्रम ठाकुर ने मुख्यमंत्री व अन्य के टिकट के पैसे दिए। यह पहली बार देखा कि किसी मुख्यमंत्री और मंत्री ने एचआरटीसी में सफर करने के पैसे दिए और टिकट कटवाया। बस पर सवार महिलाओं को किराये में 50 फीसदी की छूट दी गई।
 
*मुख्यमंत्री ने दिए सीमा की मांग पूरे करने के निर्देश* 
कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने एचआरटीसी की पहली महिला चालक सीमा ठाकुर को सम्मानित भी किया। इस दौरान सीमा ठाकुर ने मुख्यमंत्री से निवेदन किया कि उसे वॉल्वो बस की ट्रेनिंग दी जाए। अपने संबोधन के दौरान मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि सीमा की मांग को देखते हुए आवश्यक कार्यवाही की जाए। गौरतलब है कि सीमा ठाकुर लंबे समय से वॉल्वो बस चलाने की इच्छा जताती रही हैं। ऐसे में सीएम ने उनकी इच्छा पूरी करने के निर्देश दे दिए हैं। 
 
*ट्विटर पर ट्रेंड किया नारी को नमन कार्यक्रम*
महिलाओं को एचआरटीसी बस किराये में 50 फीसदी छूट देने के लिए जो कार्यक्रम रखा गया था, उसे ‘नारी को नमन’ नाम दिया गया था। दोपहर को देशभर में माइक्रो ब्लॉगिंग प्लैटफॉर्म ट्विटर पर #NariKoNaman ट्रेंड कर रहा था। ट्विटर इंडिया पर #NariKoNaman हैशटैग ट्रेंड लिस्ट में तीसरे नंबर पर पर रहा। बहुत सारे लोगों ने किराये में रियायत को महिला सशक्तिकरण की दिशा में अहम कदम बताया। कुछ महिलाओं ने लिखा कि कैसे किराये में छूट से होने वाली बचत को वो अपनी जरूरत के हिसाब से कहीं और खर्च कर पाएंगी। एक यूजर ने लिखा, ‘हिमाचल प्रदेश में अब महिलाएं आधे किराए में सरकारी बसों में सफर कर सकेंगी। सिर्फ डबल इंजन वाली सरकार की वजह से।’
 
 
*मंत्रियों ने जिला मुख्यालय में दिए सांकेतिक टिकट*
 
प्रदेश सरकार के मंत्रियों ने सभी जिला मुख्यालयों में महिला यात्रियों सांकेतिक टिकट भी दिए। इस दौरान मंडी बस स्टैंड में जलशक्ति मंत्री महेंद्र ठाकुर, शिमला टूटी कंडी बस स्टैंड में शहरी विकास मंत्री सुरेश भारद्वाज, हमीरपुर बस स्टैंड में सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री सरवीन चौधरी, केलांग बस स्टैंड में तकनीकी शिक्षा मंत्री डॉ. रामलाल मार्कंडेय, ऊना बस स्टैंड में ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर, कुल्लू बस स्टैंड में शिक्षा मंत्री गोविंद ठाकुर, सोलन बस स्टैंड में स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री राजीव सैजल, नाहन बस स्टैंड में ऊर्जा मंत्री सुखराम चौधरी, चंबा बस स्टैंड में वन मंत्री राकेश पठानिया, बिलासपुर बस स्टैंड में खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले मंत्री राजिंदर गर्ग और रिकांगपिओ बस स्टैंड में मुख्य सचेतक बिक्रम जरियाल मौजूद रहे।
 
*परिवहन मंत्री ने गिनवाए चार वर्षों के कार्य*
 
कार्यक्रम के दौरान परिवहन मंत्री बिक्रम ठाकुर ने संबोधन में कहा कि सरकार ने महिलाओं ही नहीं बल्कि हर वर्ग का ख्याल रखा है। उन्होंने अपने विभाग के कार्यों का लेखा-जोखा रखते हुए कहा कि आनी, बंजार, पावंटा साहब, राजगढ़, घुमारवीं, स्लाग और जंजहैली में एचआरटीसी के सब-डिपो खोले गए हैं।
 
उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने यह शुरुआत हुई कि यदि किसी भी चालक परिचालक की मौत काम के दौरान होती है तो हम तीन महीने के अंदर उनके परिजनों को करुणामूलक नौकरी दे रहे हैं। 
 
परिवहन मंत्री ने कहा कि चार वर्षों में एचआरटीसी में 3511 परिवारों को रोज़गार उपलब्ध करवाया गया। 172 लोगों को करुणामूलक और 14 लोगों को फेटल और नॉन फेटल दुर्घटना योजना के तहत नौकरी दी गई है। 354 पीस-मील वर्करों को अनुबंध पर लाया गया है और जो 129 लोग बचे हैं, वे भी जल्द अनुबंध में आ जाएंगे। उन्होंने जानकारी दी कि एचआरटीसी के बेड़े में इलेक्ट्रिकल बसों की बढ़ोतरी की जा रही है।
 
*दो करूणामूलकों को नौकरी का तोहफा*
धर्मशाला में आयोजित इस कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने एचआरटीसी के दो कर्मचारियों के परिवार को करूणामूलक की नौकरी दी। उन्होंने कार्यक्रम के दौरान नियुक्ति पत्र भी बांटे। बताया गया कि एक चालक और एक परिचालक की मौत हुई थी। उसके बाद उनकी पत्नियों को प्रदेश सरकार ने करूणामूलक पर नौकरी दी। हाल ही में बिलासपुर के समीप बस हादसे में चालक अरविंद की मौत हो गई थी। आज उनकी पत्नी पूजा को मुख्यमंत्री ने नियुक्ति पत्र के साथ हिमाचली टोपी और शॉल देकर सम्मानित किया। इसी तरह एक परिचालक की पत्नी को भी नियुक्ति पत्र, हिमाचली टोपी और शॉल देकर सम्मानित किया। बताया गया कि पहली जनवरी से अब तक एचआरटीसी में 14 आश्रितों को करूणामूलक आधार पर नौकरी दी गई।
 
*महिला मोर्चा अध्यक्ष रश्मिधर सूद ने किया धन्यवाद*
भाजपा महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष रश्मिधर सूद ने धर्मशाला से प्रदेश की महिलाओं को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के नेतृत्व वाली प्रदेश की भाजपा सरकार ने हमेशा से ही महिलाओं को सशक्त किया और सम्मान दिया। महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि राज्य की नारियों को नमन करते हुए मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने एचआरटीसी बसों में महिलाओं के किराये में 50 प्रतिशत छूट देकर नया इतिहास बना दिया। इसी तरह से प्रदेश के सभी जिला मुख्यालयों में आयोजित कार्यक्रम के दौरान महिलाओं ने सीएम का धन्यवाद किया।

Related Articles